LK Advani: होंगे भारत रत्न से सम्मानित, PM Modi ने कहा… | Clear Update

1
48
LK Advani

भारतीय राजनीति के इतिहास में एक अद्वितीय प्रतीक, LK Advani को भारत रत्न से सम्मानित किया जाना है। इस महत्वपूर्ण समर्पण के मौके पर, हम इस अद्वितीय राजनेता के जीवन के अनछुए पहलुओं को छूने का प्रयास करेंगे।

पूर्वकथन

Image Source

LK Advani का जन्म 8 नवंबर, 1927 को पाकिस्तान के कराची में हुआ था। एक हिंदू सिंधी परिवार में पले बढ़े, उनका यह संघर्षपूर्ण सफर भारतीय राजनीति के मैदान में हुआ।

राजनीतिक सफलता

Image Source

Advani ने 2002 से 2004 तक Atal Bihari Vajpayee की सरकार में भारत के सातवें उप प्रधानमंत्री के पद पर सेवा की। इससे पहले, उन्होंने 1998 से 2004 तक भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाले नेशनल डेमोक्रेटिक अलायंस (एनडीए) में गृहमंत्री का कार्य भी किया।

व्यक्तिगत जीवन

Image Source

LK Advani का शिक्षा से सम्बंधित सफर भी दिलचस्प है। उन्होंने कराची के सेंट पैट्रिक हाई स्कूल से शुरुआत की और फिर हैदराबाद, सिंध के डीजी नेशनल स्कूल में अपनी शिक्षा जारी रखी। विभाजन के समय, उनका परिवार पाकिस्तान छोड़कर मुंबई आया और वहां उन्होंने लॉ कॉलेज ऑफ द बॉम्बे यूनिवर्सिटी से कानून की पढ़ाई की।

योगदान और सम्मान

PM Modi ने एक्स पर पोस्ट में कहा है कि LK Advani जी को भारत रत्न से सम्मानित किया जाएगा। मोदी जी ने उनके योगदान को स्मरणीय बताया और उनके जीवन की महत्वपूर्ण क्षणों की महाकवि में साझा किया।

LK Advani का यह सम्मान एक अद्वितीय राजनेता को स्वीकृति और सम्मान का प्रतीक है। उनका योगदान भारतीय राजनीति में एक अद्वितीय स्थान बनाता है और उन्हें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के शिखर पर स्थापित करता है। इस सम्मान के साथ, Advani जी का यह यात्रा एक नई ऊँचाई की ओर बढ़ने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here